Posts

Showing posts from December, 2016

10 World Thinkers of Theatre

Image
http://tusharmhaske.blogspot.in/2016/12/10-world-thinkers-of-theatre.html
http://tusharmhaske.blogspot.in/2016/12/10-world-thinkers-of-theatre.html

कलाकार सृष्टि का निर्माण करता हैं....उसे आकार देता हैं .....विचार देता हैं और कलाकार लोगों के दिलों पर राज करता हैं ....कलाकार निर्माण की प्रक्रिया में चिंतन को जोड़ता हैं .....और एक परिवर्तन का माध्यम बन जाता हैं ....रंग चिंतन समाज में नयी ताजगी स्थापित करता है ....जानिए विश्व के जाने माने रंग चिंतक जिन्होंने समाज ,देश ,और विश्व में नाटक के माध्यम से बदलाव लाया ..... http://tusharmhaske.blogspot.in/…/10-world-thinkers-of-thea… कलाकार सृष्टि का निर्माण करता हैं....उसे आकार देता हैं .....विचार देता हैं और कलाकार लोगों के दिलों पर राज करता हैं ....कलाकार निर्माण की प्रक्रिया में चिंतन को जोड़ता हैं .....और एक परिवर्तन का माध्यम बन जाता हैं ....रंग चिंतन समाज में नयी ताजगी स्थापित करता है ....जानिए विश्व के जाने माने रंग चिंतक जिन्होंने समाज ,देश ,और विश्व में नाटक के माध्यम से बदलाव लाया .....

रंग चिन्तक मंजुल भारद्वाज द्वारा लिखित और उत्प्रेरित और यूरोप और भारत में चर्चित नाटक “ड्राप बाय ड्राप : वाटर” का मंचन

Image
रंग चिन्तक मंजुल भारद्वाज द्वारा लिखित और उत्प्रेरित और यूरोप और भारत में चर्चित नाटक“ड्राप बाय ड्राप : वाटर” का “18-22 दिसम्बर,2016” तक शांतिवन , पनवेल में होने वाली  “Theatre of Relevance – Artistic- कलात्मक Exploration” Laboratory में मंचन









रंग चिन्तक मंजुल भारद्वाज द्वारा लिखित और उत्प्रेरित और यूरोप और भारत में चर्चित नाटक“ड्राप बाय ड्राप : वाटर”पानी के निजीकरण का भारत में ही नहीं दुनिया के किसी भी हिस्से में विरोध करता है और सभी सरकारों को जनमानस की